india job post

खाद की कमी के चलते लाइन में लगने को मजबूर किसान, जानिए क्या है वजह

किसानों को खाद की कमी के कारण परेशानी हो रही है, हलांकि कृषि मंत्री का बताना है कि खाद की कोई कमी नहीं है. पढ़ें पूरा मामला 
 | 
खाद

देश के उच्च पद पर बैठे केंद्रीय कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर के गृह जिले एंव संसदीय क्षेत्र मुरैना में किसान खाद की कमी के कारण से परेशानी का सामना कर रहे हैं. किसानों का बताना है कि पिछले एक महीने से जिले में खाद की कमी चल रही है जिसके कारण से सुबह सूरज के उगने से पहले ही लाइन में लग रहे है, परंतु खाद नहीं मिलती है.

जानकारी अनुसार बता दें कि हर रोज अम्बाह, पोरसा, मुरैना, जौरा, कैलारस, सबलगढ़ में लगभग 1000 से अधिक महिला-पुरुष, खाद लेने के लिए लंबी-लंबी लाइन लगते हैं.

क्या कहते है कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर 

खाद की कमी के चलते कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर का बताना है कि जिले में खाद पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है. इसके साथ साथ पूरे देश में किसी भी प्रकार खाद की कोई किल्लत नहीं है. हो सकता है कि व्यवस्था में कोई कमी हो उसको भी अधिकारियों से कहकर जल्द ही सुधार करवाया जाएगा. जिलेभर में खाद के और भी काउंटर खोलने के लिए कलेक्टर और कृषि विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए गए है, ताकि किसानों को कोई परेशानी का सामना न करना पड़े और वह पर्याप्त मात्रा में खाद ले सकें.

खाद के लिए सुबह से लग जाती हैं लंबी लाइन 

एक तरफ कृषि मंत्री का दावा कर रहे है कि जिले में खाद की कोई कमी नहीं है, लेकिन जमीनी स्तर पर देखा जाए, तो जिलेभर में खाद लेने के लिए किसान महिलाओं और बच्चों के साथ सुबह से ही लंबी-लंबी लाइन लगाकर खड़े होते हैं, लाइन में लगने के बाद उन्हें अगर टोकन मिलता है तो खाद दो से तीन दिन बाद ही मिल रही है, वो भी खेती के हिसाब से पर्याप्त नहीं है.

Also REad: Weather Update: राजधानी दिल्ली ,गुजरात सहित इन राज्यों में भी बदलेगा मौसम, जानें आज का ताजा वेदर अपडेट