india job post

Haryana Weather: हरियाणा में बदलते मौसम से चिंता में अन्नदाता, मौसम विभाग मुताबिक 5 दिन जारी रहेगा बारिश का दौर

 | 
panipat-common-man-issues,news,state,Crop, Rain alert in Haryana, Rain in Panipat, Rainfall in Haryana, Weather Alert, Weather Panipat, jind Weather, Kaithal Weather, Weather Today At My Location, Weather department alert, Weather Update, Weather Update News, Weather forecast, Haryana Punjab Weather, मौसम, हरियाणा का मौसम,News,National News,Haryana news

खरीफ की फसल पक कर तैयार है। और बदलता मौसम किसानों के लिए चिंता का बड़ा विषय बना हुआ है। मौसमी बदलाव हरियाणा में भी देखा जा रहा है। राज्य के कुरुक्षेत्र जिले में मंगलवार को बारिश देखी गई। इससे किसानों की खड़ी फसल के साथ मंडियों में पहुंची धान की फसल भी भीग गई। मात्र 20 मिनट के समयकाल में लाडवा में 16, थानेसर में 14 और बाबैन में 12 एमएम तक वर्षा दर्ज हुई। आगामी 5 दिनों तक जारी रहने वाले इन मौसमी बदलाव से किसान भी बेचैन दिखाई दे रहे है। प्रदेश के कृषि विशेषज्ञों ने तैयार फसल को तेज बारिश से नुकसान की आशंका भी जताई है।          

कुरुक्षेत्र के जिला भर में करीब एक लाख 12 हजार हेक्टेयर में धान की फसल तैयार खड़ी है। इसमें से करीब 70 % क्षेत्र में मोटी किस्म की धान की फसल खड़ी है। इसमें कई अगेती किस्म की कटाई भी शुरू हो गई और बची 10 से 15 दिनों में पककर तैयार भी हो जाएगी। इन दिनों में बदला मौसम इस तैयार फसल के लिए खतरनाक साबित हो सकता है।

राज्य की अनाज मंडियों में लगने लगे ढेर, खरीद में देरी से बढ़ सकती है परेशानी

पिछले लगभग 10 दिनों से अनाज मंडियों में धान की आवक भी शुरू हो गई है। पिछले तीन दिनों से इसमें तेजी भी आ गई। अभी तक ही अनाज मंडियों में करीब 50 हजार क्विंटल से ज्यादा धान पहुंच गया है। इससें से 1509 किस्म की धान की व्यापारी अभी खरीद रहे हैं। पीआर किस्म की धान की खरीद शुरू न होने पर किसान इसे बोरियों में भर चट्टे भी लगवा रहे हैं।

सरकार की ओर से पास है वैरायटी तो अब खरीद में देरी क्यों 

गांव कैंथला के गुरमीत सिंह ने बताया पीआर किस्म की धान की सरकारी ओर से पास वैरायटी भी है। यह फसल 90 दिन में पककर तैयार हो जाती है। सरकार की योजना मुताबिक 15 जून को धान लगाई थी। अब वह पककर तैयार है और सरकार खरीद शुरू करने में देरी कर रहे है। इससे किसानों की परेशानी भी बढ़ रही है।

अगर एक सप्ताह तक खरीद शुरू नहीं हुई तो मंडी से लेकर सड़कों तक पर लग जाएंगे ढेर 

थानेसर की नई अनाज मंडी आढ़ती एसोसिएशन के प्रधान माया राम चंद्रभानपुर ने मीडिया से बताया कि धान की आवक अब तेज हो गई है। अगर एक सप्ताह तक सरकारी खरीद शुरू नहीं हुई तो अनाज मंडी से लेकर शहर की सड़कें तक धान से भर जाएंगी। पिछले दो दिनों से आवक में अधिक तेजी है।

आगामी पांच दिन मौसम बनेगा संकट

अगले पांच दिन मौसम के परिवर्तनशील रहने से धान की फसल के लिए संकट भी बना रहेगा। चौधरी चरण सिंह कृषि विवि हिसार के कृषि विज्ञान केंद्र की मौसम विशेषज्ञ डा. ममता ने बताया कि 14 से 18 सितंबर तक मौसम परिवर्तनशील रहने का अनुमान भी है। 14 व 15 को छिटपुट वर्षा व 16 से 18 तक अधिकतर स्थानों पर गरज व चमक के साथ हल्की वर्षा होने का अनुमान भी मौसम विभाग ने लगाया है।

Also Read: सावधान! इन राज्यों में आने वाली है आफत भरी बारिश, मौसम विभाग का अलर्ट जारी

Also Read:Sheep Farming: किसानों को अब मिलेगा मोटा मुनाफा, कम लागत पर शुरू करें भेड़ पालन

Also Read:IMD Rainfall Alert: राजस्थान के इन हिस्सों में बढ़ेंगी मुश्किलें, आने वाले 48 घंटे तक भारी बारिश का अलर्ट जारी

Also Read:मंडी भाव 15 सितंबर 2022: सरसों, नरमा, मूंगफली, मोठ, बाजरा, ग्वार, इत्यादि कृषि उपज भाव

Also Read:Subsidy: डबल दाम पर बिकेगा मक्का, इस राज्य में प्रोसेसिंग यूनिट लगाने के लिये 25% तक मिलेगी सब्सिडी, किसानों का फायदा