india job post

2025 तक 25% iPhone भारत में ही होंगे तैयार , होगा मेड इन इंडिया!

 | 
iphone

अगले तीन साल यानी 2025 तक भारत में iPhones का प्रोडक्ट बड़े स्तर पर होने वाला है। एपल ने 2017 में भारत में आईफोन का प्रोडक्शन Wistron के साथ किया था और बाद में फिर Foxconn भी भारत में आईफोन तैयार कर रहा है। भारत में Apple अपने iPhones का प्रोडक्शन लंबे समय कर रहा है। भारत में एपल के तीन प्लांट हैं जहां iPhones का प्रोडक्शन होता है. अभी भी iPhones समेत अन्य प्रोडक्ट के प्रोडक्शन को लेकर एपल की निर्भरता चीन पर सबसे अधिक है। अब J.P.Morgan की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि अगले तीन साल यानी 2025 तक भारत में iPhones का प्रोडक्ट बड़े स्तर पर होने वाला है। एपल ने 2017 में भारत में आईफोन का प्रोडक्शन Wistron के साथ किया था और बाद में फिर Foxconn भी भारत में आईफोन तैयार कर रहा है।

आईफोन 14 भी मेड इन इंडिया

2025 तक भारत में बिकने प्रत्येक चार iPhones में से एक मेड इन इंडिया होगा। रिपोर्ट में कहा गया है कि एपल, अपने प्रोडक्ट के प्रोडक्शन के लिए चीन से बाहर का रास्त देख रहा है और भारत उसे बेहतर ठिकाना लग रहा है। एक्सपर्ट के मुताबिक इस साल के अंत तक एपल iPhone 14 के प्रोडक्शन का करीब 5% हिस्सा भारत में शिफ्ट कर देगा। रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि 2025 तक मैक, आईपैड, एपल वॉच और एयरपॉड्स सहित सभी एपल प्रोडक्ट का 25 फीसदी का प्रोडक्शन चीन के बाहर होगा जो कि फिलहाल 5% है। भारत में आईफोन के प्रोडक्शन में ताइवान के वेंडर Hon Hai और Pegatron की अहम भूमिका है।

एपल के लिए पार्ट्स तैयार करेगा टाटा ग्रुप

एक रिपोर्ट में कहा गया था कि आईफोन की मैन्युफैक्चरिंग को लेकर टाटा ग्रुप ने विस्ट्रॉन कॉर्प (Wistron Corp.) के साथ साझेदारी की है। यदि टाटा ग्रुप और ताइवानी कंपनी के बीच बातचीत सफल रहती है, तो टाटा आईफोन बनाने वाला पहला भारतीय कारोबारी ग्रुप होगा।  टाटा विस्ट्रॉन के भारतीय परिचालन में हिस्सेदारी भी खरीद सकता है। दोनों कंपनियां साथ में एक नया असेंबलिंग प्लांट भी स्थापित कर सकती हैं। 

करीब 50 हजार नए लोगों को मिल सकती है नौकरी

टेकक्रंच की एक रिपोर्ट के मुताबिक Foxconn के भारतीय प्लांट में फिलहाल करीब 20,000 कर्मचारी काम कर रहे हैं, चीन में कंपनी के प्लांट में यह संख्या 3,50,000 की है। ऐसे में नए प्लांट के साथ बड़े पैमाने पर नई भर्तियां होने की उम्मीद है। कहा जा रहा है कि कंपनी भारत में 20,000 कर्मचारियों की संख्या को 50,000 तक बढ़ाने का विचार कर रही है।

Read Also: Asus ने इस जबरदस्त लैपटॉप को भारत में किया लॉन्च, कीमत और फीचर्स के बारे में पढिए!