india job post

इस राज्य के किसानों के लिए वरदान साबित हुई ये 5 योजनाएं, आप भी ले सकते है लाभ

 | 
Agriculture News,News,PMFBY,Rajasthan,कृषि यंत्र अनुदान,जल हौज निर्माण योजना,डिग्गी अनुदान योजना,पीएम फसल बीमा योजना,फसल बीमा योजना,सिंचाई पाइप लाइन योजनाx

देश के किसानों के लिए केंद्र व राज्य सरकारें अनेक तरह की योजनाओं का संचालन किया जा रहा है। एक तरह केंद्र सरकार देश के किसानों की आय दोगुनी करने के लिए निरंतर प्रयास के साथ आगे बढ़ रही है। दूसरी तरफ राज्य सरकारें भी पूरी तरह से प्रयास कर रही है। इसी कड़ी में राजस्थान की गहलोत सरकार ने राज्य के किसानों के लिए एक अलग बजट पेश कर कई तरह की बड़ी  घोषणाएं की है। आज इस लेख में हम आपको राजस्थान राज्य में कृषि से जुड़ी 5 ऐसी योजनाओं के बारे में बताएंगे। जो किसानों के लिए फायदेमंद साबित हो रही है. यदि आप भी राजस्थान प्रदेश के किसान है और तो ये खबर आपके लिए बहुत महत्वपूर्ण है.

राजस्थान के किसानों के लिए राज्य सरकार की योजनाएं 

राज्य के किसानों से जुड़ी पांच ऐसी सरकारी योजनाएं जिनसे किसान लाखों रुपए आराम से कमा सकते है.

1.राजस्थान कृषि यंत्र अनुदान 2022

राज्य सरकार की इस योजना के तहत सरकार किसानों को कृषि मे उपयोग होने वाले यंत्र जैसे ट्रॉली, थ्रेसर आदि उपकरण खरीदने पर 40 से 50 % तक सब्सिडी देती है. इस योजना में पात्रता के लिए व्यक्ति के पास खुद के नाम की जमीन होनी चाहिए. अगर किसान संयुक्त परिवार से है तो वैसी स्थिति में उस किसान का नाम जमीन के राजस्व रिकॉर्ड में होना भी जरुरी है. सरकार की ये योजना पहले आओ पहले पाओ के आधार पर चलती है. लेकिन इसमें उन किसानों को प्राथमिकता दी जाती है जो एससी-एसटी वर्ग या बीपीएल वर्ग से है. या फिर वो किसान जिन्हें आज तक सरकार की किसी योजना का लाभ नहीं मिला है. और अगर किसान को ट्रैक्टर से संचालित होने वाले कृषि यंत्रों को खरीदना है तो इसके लिए जरुरी है कि ट्रैक्टर का रजिस्ट्रेशन उसी किसान के नाम पर ही हो. इसका आवेदन राज्य के किसी ई-मित्र के जरिए ऑनलाइन भी होता है. और सब्सिडी का भुगतान भी किसानों को बैंक खातों में मिलता है. 

2.किसान डिग्गी के लिए सब्सिडी 

राजस्थान में ये योजना राजस्थान के नहरी इलाके के किसानों को जल संचय में मदद के लिए चलाई जा रही है. इस योजना के तहत अगर किसान 4 लाख लीटर पानी की क्षमता वाली डिग्गी को बनाता है उसके लिए सरकार 50 % तक या अधिकतम 2 लाख रुपए तक की सब्सिडी देती है. इस योजना की पात्रता के लिए किसान के पास न्यूनतम 1 हैक्टेयर सिंचित जमीन भी होनी चाहिए. इस योजना में किसान नजदीकी ई-मित्र के जरिए सीधे ऑनलाइन आवेदन कर सकता है. डिग्गी निर्माण का काम पूरा होने के 30 दिन के भीतर अनुदान का भुगतान होता है. 

3.राजस्थान जल हौज निर्माण योजना

इस योजना के तहत राजस्थान में जिन इलाकों में नहरी पानी या नदियों से सिंचाई नहीं होती है. उन इलाकों में कुंए भी काफी गहरे है. या बिजली सप्लाई को लेकर भी किसानों को काफी समस्या रहती है. ये योजना उन इलाकों के लिए बेहद फायदेमंद है. क्योंकि एक लाख लीटर जल भराव क्षमता वाले हौज का निर्माण करने पर सरकार की ओर से किसान को 50 % तक अनुदान या अधिकतम 75 हजार रुपए की मदद सब्सिडी के रूप मिलती है. 

4. राजस्थान फसल बीमा योजना

इस योजना के तहत जहां कम बारिश या बाढ़ की वजह से फसलें खराब हो जाती है. या आगजनी, ओलावृष्टि या बेमौसम बारिश की वजह से भी फसलें खराब हो जाती है. उन इलाकों में किसानों को आर्थिक नुकसान की भरपाई देने के लिए सरकार ने ये योजना चलाई है. इस योजना के लिए किसानों को जितनी राशि का बीमा कराया जाएगा. तो उसमें सिर्फ कुछ हिस्सा प्रीमियम का भरना होगा. किसान को खरीफ फसल के लिए 2 प्रतिशत, रबी के लिए डेढ़ % प्रीमियम तक देना होगा.इसके अलावा वाणिज्यिक और उद्यानिकी फसलों के लिए 5 % प्रीमियम देना होगा. जिन किसानों ने बैंकों से लोन ले रखा है उनका सिर्फ उसी बैंक में बीमा होगा. बाकी किसानों को नजदीकी ई-मित्र के जरिए आवेदन करना होगा. 

5.राजस्थान सिंचाई पाइप लाइन योजना

राज्य सरकार की इस योजना में किसानों को सिंचाई में उपयोग होने वाले पाईप के लिए अनुदान मिलता है. पी.वी.सी./एच.डी.पी.ई. पाईप पर किसानों को लागत पर 50 रुपए प्रति मीटर के हिसाब से या लागत का 50 % सब्सिडी के रूप में मिलता है. एचडीपीई पाईप 20 रुपए प्रति मीटर तक अनुदान भी मिलता है. एचडीपीई लेमिनेटेड ले-फलेट टयूब पाईप खरीदने पर सरकार की ओर से 15 हजार रुपए तक की आर्थिक मदद भी मिलती है.

रोजाना मंडी भाव के लिए यहां टच कर व्हाट्सप्प ग्रुप से जुड़े

ये भी पढ़े: Monsoon 2022: मौसम विभाग ने दी खुशखबरी, इस महीने जमकर होगी बारिश

ये भी पढ़े: Kissan Credit Card: किसान क्रेडिट कार्ड होने वाले है ये बड़े बदलाव, RBI करेगा ये काम

ये भी पढ़े: Indore Mandi Bhav: इंदौर में दाल चावल और गेहूं के ताजा मंडी भाव

ये भी पढ़े: Rabi Season Crops 2022: रबी की दलहनी फसलों की पूरी पैदावार लेने के लिए अपनाएं कृषि विशेषज्ञों की यह सलाह

ये भी पढ़े:  Hariyana Weather Update: अब गर्मी और उमस से राहत के आसार, मौसम विभाग ने बताया इन जिलों में होगी बारिश